Connect with us

India

मुद्रा लोन लेने में किन दस्तावेजों की पड़ती है जरूरत?

Published

on

मुद्रा लोन लेने में किन दस्तावेजों की पड़ती है जरूरत?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत लोन लेने के लिए कुछ दस्तावेज जरूरी हैं. मुद्रा योजना के तहत तीन तरह के लोन मिलते हैं, जिनके लिए अलग-अलग दस्तावेजों की जरूरत हो सकती है. आम तौर पर मुद्रा लोन वेंडर, ट्रेडर, दुकानदार और अन्य कारोबार के लिए दिए जाते हैं. मुद्रा लोन लेकर आप टैक्सी-ट्रांसपोर्ट का भी काम शुरू कर सकते हैं. इसके अलावा अगर आप छोटी यूनिट लगाना चाहते हैं तो मशीनरी और कच्चा माल आदि खरीदने के लिए भी लोन लिया जा सकता है.

देश में 27 सरकारी बैंक, निजी क्षेत्र के 17 बैंक, 31 क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, 4 सहकारी बैंक, 36 माइक्रो फाइनेंस संस्थान और 25 गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) को मुद्रा लोन बांटने के लिए अधिकृत किया गया है.

केंद्र सरकार के निर्देश के हिसाब से मुद्रा लोन की कुल रकम का कम से कम 60 फीसदी से अधिक हिस्सा शिशु मुद्रा लोन के रूप में देना जरूरी है.

मुद्रा लोन लेने के लिए फॉर्म के साथ लगाये जाने वाले दस्तावेज दो फोटो पहचान का प्रमाण खुद की पहचान संबंधी दस्तावेज के रूप में आप इन दस्तावेजों में से किसी एक की फोटोकॉपी जमा कर सकते हैं. कागजात की फोटो कॉपी पर आपको अपना हस्ताक्षर भी करना होगा. मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि

Read More: Pradhan Mantri Awas Yojana: घर खरीदने में मिलेगी 2.67 लाख की राहत, यहां जानिए योजना की डिटेल

निवास संबंधी प्रमाण अपने पते के प्रमाण के रूप में आप इनमें से कोई एक कागजात की फोटोकॉपी जमा कर सकते हैं. टेलीफोन बिल, बिजली का बिल, संपत्ति कर रसीद, मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट, बैंक पासबुक का तीन महीने का स्टेटमेंट आदि

आरक्षित वर्ग का सर्टिफिकेट अगर आप अनुसूचित जाति/जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग आदि से आते हैं तो उसके प्रमाणपत्र की फोटोकॉपी. कारोबार का पहचान व पते का प्रमाण अपने कारोबार से संबंधित लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट या अन्य कोई दस्तावेज जमा करना होगा. यह इस बात का प्रमाण है कि आप उस बिजनेस के मालिक हैं.

Read More: प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण(PMAY-G) में कैसे चेक करें अपना नाम?

कोटेशन: मशीनरी या सामान की आपूर्ति के लिए अगर आप बिजनेस बढ़ाने के लिए मुद्रा लोन ले रहे हैं तो इस कोटेशन में आप सामान या मशीनरी खरीदने की लागत आदि दिखा सकते हैं. आपूर्ति करने वाले का नाम, मशीन या सामान का विवरण कारोबार बढ़ाने में आपको मशीन या कच्चे माल आदि की जरूरत पड़ती है. ऐसे में आप सामान किससे खरीद रहे हैं और किस कीमत पर खरीद रहे हैं, इस बारे में भी बैंक को बताना पड़ेगा.

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

Sports

Advertisement

Trending